Marketing

Let’s discover the meaning of Marketing.

Jatin tiger

6/19/20231 min read

Marketing( मार्केटिंग )

भोलू उदास है आज पर क्यों ? आज तो वो ख़ुशी ख़ुशी शहर गया है अपनी मिठाइयो को बेचने , और उसकीमिठाइयाँ स्वादिष्ट और अच्छी भी हैं फिर भी वो बिक क्यों नहीं रही हैं ? अच्छा तो बात ये है , इसलिए भोलूउदास है।

अब भले ही भोलू ने मिठाई कितनी ही अच्छी बनाई हो लेकिन जब तक लोगो को उसके बारे में जानकारी नहींहोगी तब तक लोग उसके पास आकर ख़रीदेंगे कैसे ?

आपने जो समस्या का हल बनाया है उसकी जानकारी देने को हीमार्केटिंगकहते हैं अब जानकारी बहुततरीक़े की हो सकती है जैसे - प्रोडक्ट कहाँ से मिलेगा , प्रोडक्ट कैसा है , प्रोडक्ट पे कैसे विश्वास किया जाएइत्यादि

अब जैसे ही लोगो को भोलू के मिठाई के बारे में पता चल जाएगा कि वो अच्छी है और यहाँ मिल रही है , भोलूफिर से खुश हो जाएगा

Bholu is sad today. But why? Today, he happily went to the city to sell his sweets, and his sweets are tasty and good. Yet they are not selling. Well, the thing is, that's why Bholu is sad.

Even though Bholu made delicious sweets, people won't come to buy them until they have information about him. This is where "marketing" comes into play. Information can be shared in various ways, such as where to find the product, what the product is like, how to trust the product, and so on.

As soon as people learn about Bholu's sweets and know that they are good and available here, Bholu will be happy again.